15.9 C
New York
Friday, October 22, 2021

Buy now

spot_img

इस बार बिजली उपभोक्ताओं की जेब पर लगेगा आर्थिक करंट

फरीदाबाद (नेशनल प्रहरी/ रघुबीर सिंह ) : अप्रैल माह में आने वाला बिजली बिल इस बार सामान्य से करीब दोगुना भरने के लिए उपभोक्ता तैयार रहें। बिजली निगम ने अग्रिम खपत राशि बढ़ा दी है और इस बार के बिल में इसकी वसूली होगी। हरियाणा बिजली विनियामक आयोग (एचईआरसी) के निर्देशानुसार सभी सक्रिय बिजली उपभोक्ताओं को वित्तीय वर्ष में दो औसत बिलिग चक्र के बराबर अग्रिम सुरक्षा राशि (एसीडी) रखना अनिवार्य है। इसके तहत दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के लिए यह अनिवार्य है कि वह सभी सक्रिय बिजली उपभोक्ताओं की उनके पिछले वित्तीय वर्ष की औसत बिलिग के आधार पर उनके द्वारा जमा की गई अग्रिम खपत जमा (एसीडी) की समीक्षा कर इसकी वसूली सुनिश्चित करें।
दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के प्रबंध निदेशक डा. बलकार सिंह ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2020-21 में कोविड-19 महामारी के प्रकोप के कारण दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम द्वारा बिजली उपभोक्ताओं की अग्रिम खपत जमा की समीक्षा स्थगित कर दी गई थी, जिसे हरियाणा बिजली विनियामक आयोग के निर्देशों के अनुसार 24 मार्च, 2021 से प्रभावी बनाया गया है। एचईआरसी के मानदंडों को ध्यान में रखते हुए उपरोक्त समीक्षा राशि को उपभोक्ता के खाते में दो किस्तों में चार्ज या वापस किया जा रहा है।
उन्होंने बताया कि दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम द्वारा उपभोक्ताओं को मोबाइल एसएमएस के माध्यम से भी इस सूचना से अवगत करवाया जा रहा है। इस संबंध में हाल ही में यह देखा गया है कि कुछ उपभोक्ताओं को स्पाट बिल और आनलाइन उपलब्ध बिल में दिखाई गई अलग-अलग राशि के कारण अपने बिजली बिलों का भुगतान करने में कठिनाई का सामना पड़ा है। यह इस तथ्य के कारण हुआ कि ऐसे उपभोक्ताओं की बिलिग प्रक्रिया 24 मार्च, 2021 से पहले आइटी प्रणाली में चल रही थी और एसीडी समीक्षा प्रक्रिया शुरू नहीं हो पाई थी। अधीक्षक अभियंता ने दावा किया कि दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम अपने उपभोक्ताओं को आश्वस्त करता है कि 24 मार्च, 2021 के बाद शुरू किए गए सभी बिलिग बाइंडरों में ऐसी कोई बिलिग विसंगति नहीं होगी। उपभोक्ताओं से भी निवेदन है कि अपने बिजली बिलों का समय पर भुगतान करके दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम का सहयोग करें। इस संबंध में अधिकतम जानकारी के लिए उपभोक्ता अपने निकटतम बिजली कार्यालय में भी संपर्क कर सकते हैं।
यहां स्पष्ट कर दें कि कृषि उपभोक्ताओं के बिल चार माह बाद तो घरेलू उपभोक्ताओं के बिजली बिल दो माह बाद आते हैं। इंडस्ट्री के बिल हर माह जारी होते हैं। हर उपभोक्ता से अग्रिम सुरक्षा राशि उनके पिछले वित्तीय वर्ष की औसत बिलिग के आधार पर वसूली जाती है। ऐसे में जिन उपभोक्ताओं की बिजली खपत ज्यादा है तो यह राशि भी ज्यादा होगी। सामान्य भाषा में इस बार बिजली बिल दोगुना तक आ सकता है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,107FansLike
0FollowersFollow
2FollowersFollow
- Advertisement -spot_img

Latest Articles