15.1 C
New York
Saturday, October 23, 2021

Buy now

spot_img

खोरी गांव के गरीब मजदूरों का पक्ष कोर्ट में सही नहीं रख पाई सरकार : विजय प्रताप

जल्द ही खोरी गांव के लोगों की मदद के लिए बनाऊंगा कोई रणनीति
फरीदाबाद (नेशनल प्रहरी/ रघुबीर सिंह ):
बडखल विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी रहे चौ. विजय प्रताप सिंह ने खोरी मामले में सुप्रीमकोर्ट के आदेशों को लेकर कहा है कि हरियाणा सरकार ने कोर्ट में खोरी के गरीब मजदूर लोगों के साथ विश्वासघात किया है । हरियाणा सरकार को कोर्ट में अपना पक्ष रखते हुए यह कहना चाहिए था कि हरियाणा सरकार इन सभी गरीब मजदूर लोगों के लिए पुनर्वास योजना के तहत मकान बनाने को तैयार है और इसके लिए समय सीमा भी तय करनी चाहिए थी । उस तय समय सीमा तक इन लोगों को ना हटाया जाने की दलील सुप्रीमकोर्ट में पेश करनी चाहिए थी लेकिन भाजपा सरकार ने अपनी गलत मंशा दर्शाते हुए इन लोगों के जीवन पर कुठाराघात किया है ।
चौ. विजय प्रताप सिंह ने आगे कहा कि एक तरफ भीषण कोरोना महामारी है, जिसमें जिन्दा रहने के लिए लोगों को संघर्ष करना पड़ रहा है,जिसके परिणाम स्वरूप लोगों के काम धंधे पर बुरा असर हुआ है और करोड़ों लोगों के रोजगार खराब हुए हैं। इसमें बड़े स्तर पर असंगठित मजदूर भी हैं और खोरी में रहने वाले लोग ज्यादातर उसी क्षेत्र से हैं। ऐसे में सरकार से यह लोग आथिक मदद की आस लगाए बैठे थे,जिसको देखते हुए सरकार एंव सुप्रीमकोर्ट को मानवीय दृष्टिकोण अपनाना चाहिए था,लेकिन भाजपा के नेता चुनावों के समय बड़े-बड़े वायदे तो करते हैं, मगर उनको पूरा नहीं करते हैं । प्रधानमंत्री मोदी ने हर बार यह कहकर लोगों को भ्रमित किया है कि 2022 तक वो सब गरीबों को मकान देंगे,मगर इसके विपरीत छोटे-छोटे एंव बुजुर्गों की तरफ भी नहीं देखा जा रहा है कि उनका इस कोरोना महामारी के समय क्या होगा ।
विजय प्रताप ने कहा कि बड़ी बिडम्बना है कि ऐसे निष्ठुर और झूठे लोग आज सरकार और सिस्टम को चला रहे हैं । सुप्रीम कोर्ट की इसी बेंच ने 5 अप्रैल 2021 को पिटीशन नंबर 19148/2010 29-04-2016 पर सुनवाई में आदेश दिया है कि 2005 तक के सभी मामलों में पहले पुनर्वास दिया जाए। इसके बाद लोगों को वहां से हटाया जाए। लेकिन यहां उल्टा गरीबों के घर तोड़े जा रहे हैं। कांग्रेस नेता ने कहा कि वह जल्द ही खोरी गांव जाकर लोगों की मदद करने के लिए कोई रणनीति बनाएंगे। विजय प्रताप ने कहा कि जब तक पूर्व मंत्री चौधरी महेन्द्र प्रताप यहां से प्रतिनिधित्व करते रहे, तब तक यहां गरीबों के आशियाने नहीं उजाड़े,उनको हटाने से पहले मकान दिए गए,चाहे वो 36 गज़ हो या आशियाना या डबुआ की पुनर्वास स्कीम हो,यह सब कांग्रेस के समय में गरीबों को दिया गया ।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,107FansLike
0FollowersFollow
2FollowersFollow
- Advertisement -spot_img

Latest Articles