7.1 C
New York
Monday, December 6, 2021

Buy now

spot_img

गाँव तिलपत में अनुसूचित जाति के श्रमिकों को किया जागरूक : तिलक राज

फरीदाबाद (नेशनल प्रहरी/ अशोक कुमार ) : दतोपंत ठेंगड़ी राष्ट्रीय श्रमिक शिक्षा एवम विकास बोर्ड फरीदाबाद, श्रम एवं रोजगार मंत्रालय भारत सरकार के द्वारा गाँव तिलपत फरीदाबाद में अनुसूचित जाति के श्रमिकों के जागरूकता हेतु दो दिवसीय जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें बोर्ड के शिक्षा अधिकारी तिलकराज ने रिबन काटकर श्रमिक जागरूकता शिविर का शुभारम्भ किया। विशिष्ट अतिथि के रूप में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के कानूनी सेवक एवम नेशनल अवार्डी दीपक कुमार मन्थन एवम हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद चंडीगढ़ के लाइफ मेम्बर वन्दना निर्वान, पारुल रहे। कार्यक्रम का संयोजन रूरल वालंटियर कविता ने किया।
बोर्ड के शिक्षा अधिकारी तिलक राज ने कहा कि बोर्ड के द्वारा समय समय पर सरकार द्वारा श्रमिको के कल्याण हेतु चलाई जा रही भिन्न भिन्न योजनाओं की जानकारी देकर उन्हें जागरूक किया जाता है। जिसमे सभी को सेल्फ हेल्प ग्रुप, सूचना का अधिकार अधिनियम, घरेलू हिंसा रोकथाम, श्रमिक पंजीकरण आदि की जानकारी दी जाती है। उन्हें इसलिए उन्हें दो दिनों की प्रतिभागिता हेतु पांच सौ रुपये का मानदेय भी प्रदान किया जाता है।
विशिष्ट अतिथि जिला विधिक सेवा प्राधिकरण से कानूनी सेवक व नेशनल अवार्डी दीपक कुमार मन्थन ने बताया कि प्राधिकरण द्वारा श्रमिको के लिए मुफ्त कानूनी सहायता प्रदान की जाती है। जिसमे की कोई भी व्यक्ति जिसकी सलाना आमदनी तीन लाख से कम हो, कोई भी महिला, कोई भी बच्चा, कोई भी वरिष्ठ नागरिक, कोई भी अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति, पिछड़े वर्ग, बीपीएल, मानसिक रोगी, मन्द बुद्धि, ओधोगिक क्षेत्रो के श्रमिकों, बाढ़ पीड़ित, भूकम्प पीड़ित, दंगा पीड़ित, स्वंतत्रता सेनानी या उनपर आश्रित परिवारों को मुफ्त कानूनी सहायता प्रदान की जाती है। सभी वो श्रमिक जो एक भवन को बनाने में काम करते है उन सभी का हरियाणा भवन सन्न निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड में पंजीकरण करवाना चाहिए।
इससे एक वर्ष की पंजीकरण उपरांत पुनः पंजीकरण पर पंजीकृत श्रमिको को बच्चों को पढाने, शादी के लिए, इलाज के लिए, औजारों हेतु, रसोई समान के लिए, सिलाई मशीन, साइकिल, हेतु अनुदान के रूप में सहयोग दिया जाता है।
इस अवसर पर बोर्ड के द्वारा सभी श्रमिक प्रतिभागियों को मास्क व सैनीटाईजर भी निःशुल्क वितरण किये गए। रूरल वॉलिंटियर्स कविता ने सभी श्रमिको को कम आमदनी में घरेलू बचत के बारे में बताया।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,107FansLike
0FollowersFollow
2FollowersFollow
- Advertisement -spot_img

Latest Articles