17.9 C
New York
Sunday, September 19, 2021

Buy now

नए ढांचे के साथ अप्रैल में फिर शुरू होंगे घरेलू टूर्नामेंट,बीएआई की ईसी में हुआ फैसला

सीनियर और जूनियर बैडमिंटन खिलाड़ियों के लिए राष्ट्रीय शिविर भी अप्रैल में होंगे शुरू
नई दिल्ली (नेशनल प्रहरी/ संवाददाता ) :
बहुप्रतीक्षित घरेलू बैडमिंटन सर्किट अप्रैल से शुरू हो रहा है क्योंकि भारतीय बैडमिंटन संघ (बीएआई) ने संशोधित ढांचे के साथ सीनियर रैंकिंग टूर्नामेंट्स फिर से शुरू करने का फैसला किया है। यह निर्णय बीएआई की कार्यकारी समिति की बैठक के दौरान शनिवार को लिया गया। कोविड-19 महामारी के कारण, राज्य इकाई के सदस्य भारत के सभी हिस्सों से वर्चुअली इस बैठक से जुड़े हुए थे।
महामारी के कारण लगभग एक वर्ष गंवाने के बाद राज्य इकाइयों के साथ चर्चा के बाद बीएआई ने देश में खेल को फिर से शुरू करने की पहल के लिए अप्रैल से शुरू होने वाले दो सीनियर रैंकिंग टूर्नामेंट के साथ घरेलू सर्किट शुरू करने का फैसला किया है।
बीएआई अध्यक्ष हेमंता विसवा सरमा ने कहा, “कोरोनाकाल हमारे खिलाड़ियों के साथ-साथ खेल से जुड़े सभी हितधारकों के लिए एक कठिन समय रहा है। कोरोना के कारण सबको लंबे समय तक बाहर बैठना पड़ा था। हालांकि, वैक्सीन के आगमन से नई आशा और आत्मविश्वास आया है। हम स्थिति का मूल्यांकन करने के बाद टूर्नामेंट्स का आयोजन कराने का फैसला किया। ये आयोजन सुरक्षा प्रोटोकॉल के तहत होंगे। मैं कह सकता हूं, हम नए सिरे से शुरुआत के लिए तैयार हैं।’’
नई घरेलू संरचना में नवोदित खिलाड़ियों को अपनी प्रतिभा दिखाने का अवसर होगा। सीनियर रैंकिंग टूर्नामेंट को अब तीन स्तरों में वर्गीकृत किया जाएगा, जिसमें लेवल 3 में साल में 6 सीरीज टूर्नामेंट होंगे जबकि लेवल 2 में 4 सुपर सीरीज टूर्नामेंट होंगे। प्रीमियर सुपर सीरीज टूर्नामेट को स्तर 1 टूर्नामेंट के रूप में वर्गीकृत किया गया है जिसमें प्रति वर्ष दो टूर्नामेंट होंगे। टूर्नामेंट्स में आकर्षक पुरस्कार राशि भी होगी। लेवल 1 के लिए 10 लाख की पुरस्कार राशि निर्धारित की गई है जबकि लेवल 2 और लेवल 3 में संबंधित टियर टूर्नामेंट्स के लिए क्रमश: 15 और 25 लाख रुपये की इनामी राशि होगी।
बीएआई के महासचिव अजय सिंघानिया ने कहा, ‘‘अब हमारा ध्यान खेल को फिर से शुरू करने पर है। हमने सुनिश्चित किया कि खिलाड़ियों की सुरक्षा हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता होगी। हालांकि देश में स्थिति धीरे-धीरे बेहतर हो रही है, हम इन टूर्नामेंट्स का संचालन करते हुए खिलाड़ियों के स्वास्थ्य को लेकर कोई समझौता नहीं करेंगे। नए टूर्नामेंट की संरचना और संशोधित पुरस्कार राशि न केवल पारिस्थितिकी तंत्र में सकारात्मकता को बढ़ावा देगी और नई ऊर्जा लाएगी, बल्कि हमें यह भी उम्मीद है कि यह संरचना देश में संभावित और नई प्रतिभाओं के लिए अधिक अपनी प्रतिभा दिखाने का अधिक अवसर प्रदान करेगी।’’
दोनों टूर्नामेंट, जिनके माध्यम से देश में बैडमिंटन को फिर से शुरू होंगे, लेवल 3 टूर्नामेंट का हिस्सा होंगे। इनमें एकल में 64 और युगल में 32 खिलाड़ी शामिल होंगे। मेजबान को एकल में दो और युगल में एक कोटा हासिल होगा। क्वालीफाईंग में हिस्सा लेने वाले खिलाड़ियों की संख्या पर कोई रोक नहीं होगी। हालांकि एकल से 32 और युगल से 16 खिलाड़ी ही क्वालीफायर के माध्यम से आगे बढ़ेंगे।
बैठक में मई में होने वाले इंडिया ओपन के बारे में भी चर्चा हुई, जो बैडमिंटन कैलेंडर के सबसे प्रतिष्ठित टूर्नामेंट्स में से एक है और टोक्यो ओलंपिक के लिए अंतिम क्वालीफाइंग टूर्नामेंट भी होगा। खिलाड़ियों के साथ-साथ दर्शकों के लिए भी इस आयोजन को यादगार बनाने के लिए, बीएआई ने इंदिरा गांधी स्टेडियम में नए सिरे से तैयार किया है।
टूर्नामेंट्स को फिर से शुरू करने के साथ, बीएआई ने अप्रैल से सीनियर और जूनियर खिलाड़ियों के लिए सभी राष्ट्रीय शिविरों को फिर से शुरू करने का भी फैसला किया है। जूनियर खिलाड़ी, जो 2024 और 2028 ओलंपिक खेल के लिए संभावित प्रतिभाएं हैं और जूनियर टॉप्स योजना का हिस्सा हैं, को इस शिविर में शामिल किया जाएगा। ये जूनियर खिलाड़ी गुवाहाटी, पंचकुला, गोपीचंद-एसएआई बैडमिंटन अकादमी, पीपीबीए-बैंगलोर और लखनऊ के बाबू बनारसी दास बैडमिंटन अकादमी में पांच बीएआई-एसएआई जूनियर अकादमियों में प्रशिक्षण प्राप्त कर सकेंगे। जूनियर खिलाड़ियों की ट्रेनिंग चरणबद्ध तरीके से शुरू की जाएगी।
शिविरों से पहले मार्च तक सभी आवश्यक कोचों का चयन पूरा कर लिया जाएगा। कोच की नियुक्ति के लिए विज्ञापन जल्द ही बीएआई की आधिकारिक वेबसाइट पर अपलोड कर दिया जाएगा।

Related Articles

सैक्टर-58 इलेक्ट्रोप्लेटिंग जोन में 1000 लोगों ने लगवाई वैक्सीन

रोटरी क्लब ऑफ फरीदाबाद आईएमटी के सहयोग से श्रमिकों को किया गया वैक्सीनेटेडफरीदाबाद (नेशनल प्रहरी/ रघुबीर सिंह ): सैक्टर-58 इलैक्ट्रोप्लेटिंग जोन में...

आज के समय में रक्तदान है सबसे बड़ा महादान: राजेश नागर

रोटरी क्लब ऑफ फरीदाबाद, आरडब्ल्यूए सेक्टर 21बी और खुशी एक एहसास संस्था ने मिलकर लगाया रक्तदान शिविरफरीदाबाद (नेशनल प्रहरी/ रघुबीर सिंह ):...

विद्या व्यक्ति के ऐसे संस्कार हैं जो उसके जीवन भर आते हैं काम: डॉ.एमपी सिंह

फरीदाबाद (नेशनल प्रहरी/ रघुबीर सिंह ): सूरजकुंड रोड स्थित श्री सिद्धदाता आश्रम प्रांगण में संचालित होने वाले स्वामी सुदर्शनाचार्य वेद वेदांग संस्कृत...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,107FansLike
0FollowersFollow
0FollowersFollow
- Advertisement -

Latest Articles

सैक्टर-58 इलेक्ट्रोप्लेटिंग जोन में 1000 लोगों ने लगवाई वैक्सीन

रोटरी क्लब ऑफ फरीदाबाद आईएमटी के सहयोग से श्रमिकों को किया गया वैक्सीनेटेडफरीदाबाद (नेशनल प्रहरी/ रघुबीर सिंह ): सैक्टर-58 इलैक्ट्रोप्लेटिंग जोन में...

आज के समय में रक्तदान है सबसे बड़ा महादान: राजेश नागर

रोटरी क्लब ऑफ फरीदाबाद, आरडब्ल्यूए सेक्टर 21बी और खुशी एक एहसास संस्था ने मिलकर लगाया रक्तदान शिविरफरीदाबाद (नेशनल प्रहरी/ रघुबीर सिंह ):...

विद्या व्यक्ति के ऐसे संस्कार हैं जो उसके जीवन भर आते हैं काम: डॉ.एमपी सिंह

फरीदाबाद (नेशनल प्रहरी/ रघुबीर सिंह ): सूरजकुंड रोड स्थित श्री सिद्धदाता आश्रम प्रांगण में संचालित होने वाले स्वामी सुदर्शनाचार्य वेद वेदांग संस्कृत...

आम आदमी पार्टी की किसान मजदूर खेत बचाओ यात्रा का फरीदाबाद में भव्य स्वागत

फरीदाबाद (नेशनल प्रहरी/ रघुबीर सिंह ): आम आदमी पार्टी की प्रदेशभर में 5 सितम्बर से निकाली जा रही किसान मजदूर खेत बचाओ...

जिले में बढ़ा डेंगू का कहर: बीते 24 घंटों में मिले डेंगू के सर्वाधिक दस मामले

फरीदाबाद (नेशनल प्रहरी/ रघुबीर सिंह ): मच्छर जनित डेंगू का कहर जिले में बढ़ता ही जा रहा है। बीते 24 घंटों में...