बाल प्रतिभाओं को निखारने के लिए बाल कल्याण परिषद नूंह निभा रही महत्वपूर्ण भूमिका: मुकेश वशिष्ठ

0
96

-जिला स्तरीय बाल महोत्सव के समापन कार्यक्रम पर प्रतिभाओं को देखकर आश्चर्यचकित हुए मुख्यमंत्री के मीडिया कोऑर्डिनेटर मुकेश वशिष्ठ
-जिला नूँह के विद्यार्थियों में प्रतिभा की कोई कमी नहीं: मुकेश वशिष्ठ
-पाठ्य सहगामी क्रियाओं का आयोजन विद्यार्थियों के विकास में निभाएगा महत्वपूर्ण भूमिका
नूंह (नेशनल प्रहरी/ संवाददाता )।
जिला स्तरीय बाल महोत्सव प्रतियोगिताओं के समापन कार्यक्रम पर सरदार गुरमुख सिंह मेमोरियल पब्लिक स्कूल में आयोजित बाल महोत्सव 2022 में आज मुख्यमंत्री हरियाणा श्री मनोहर लाल के मीडिया कोऑर्डिनेटर श्री मुकेश वशिष्ट मुख्य अतिथि के रुप में पधारे उनके पधारने पर जिला बाल कल्याण अधिकारी कमलेश शास्त्री ने पुष्पगुच्छ भेंट कर उनका स्वागत किया।
इस अवसर जिला शिक्षा अधिकारी रामपाल धनखड़ ,जिला भाजपा अध्यक्ष नरेंद्र पटेल, कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे सरदार जी एस मलिक, बाल कल्याण समिति के चेयरमैन राजेश छौंकर, निगरानी कमेटी के चेयरमैन नरेंद्र शर्मा, सुभाष, दिनेश देशवाल गुरुग्राम से टीम ऊं की डारैक्टर रश्मि राय चौकसे, प्रमोद राय सहित अनेक गणमान्य व्यक्तियों ने कार्यक्रम में उपस्थित होकर बच्चों का उत्साहवर्धन किया। इस अवसर पर आज फैंसी ड्रेस कार्यक्रम,एकल गीत,रंगोली और पोस्टर मेकिंग कार्यक्रम आयोजित किए गए।
मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार ने रंगोली और विद्यार्थियों द्वारा बनाए गए पोस्टरों को देखकर बच्चों की भूरी-भूरी प्रशंसा की। वहीं फैंसी ड्रेस कार्यक्रम और सोलो सॉन्ग कार्यक्रमों को देखकर व सुनकर अति प्रभावित हुए। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि निश्चित रूप से मेवात के विद्यार्थियों में प्रतिभा कूट कूट कर भरी हूई है।
प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी व मुख्यमंत्री हरियाणा श्री मनोहर लाल खट्टर जी के कुशल नेतृत्व एवं मार्गदर्शन में नूँह को आकांक्षात्मक जिलों की सूची से बाहर निकालने के लिए विभिन्न क्षेत्रों विशेषकर शिक्षा के क्षेत्र में प्रगति हेतु जो कुशल प्रयास किए जा रहे हैं उनका परिणाम आप सबके सामने है। उन्होंने विद्यार्थियों की गायन प्रतिभा और फैंसी ड्रेस एक्टिंग को देख कर जोरदार ताली बजाकर उनकी तारीफ की साथ ही कहा कि निश्चित रूप से विकसित हरियाणा में जिला नूँह की भूमिका भी अत्यंत सराहनीय रहेगी। मुख्य अतिथि महोदय का यहां पधारने पर कमलेश शास्त्री ने स्वागत किया और सरदार जी एस मलिक ने धन्यवाद किया।
मंच संचालन करते हुए बाल कल्याण परिषद के आजीवन सदस्य एवं इतिहास प्राध्यापक अशरफ मेवाती ने तीनों दिन हुई प्रतियोगिताओं के परिणाम घोषित किए। परिणामों को सुनकर विद्यार्थियों में उमंग भर गई और जोरदार तालियों के साथ खुशियां मनाने लगे। प्रतियोगिताओं के संचालन में निर्णायक मंडल में सम्मिलित प्राध्यापक रविशंकर, रामकिशोर, पूनम रानी, कमलेश कुमारी, मंजू, सविता, रश्मि, प्रियंका, अलका, सीमा, कला अध्यापक हाजी अब्दुल कयूम व राहुल सहित विभिन्न विद्यालय के अध्यापकों ने महत्वपूर्ण योगदान दिया। जिला बाल कल्याण अधिकारी कार्यालय में कार्यरत सुपरवाइजर लोकेश लोकेंद्र, मुकेश, दीपक, एकता, ज्योति एवं आशा ने भी महत्वपूर्ण योगदान दिया।