कांग्रेस ने देश को अंग्रेजी साम्राज्य से मुक्त करवाकर किया प्रजातांत्रित भारत का निर्माण: कुमारी सैलजा

0
128

फरीदाबाद (नेशनल प्रहरी/ रघुबीर सिंह)। अखिल भारतीय कांग्रेस के 138वें स्थापना दिवस और कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव एवं छत्तीसगढ़ की प्रभारी कुमारी सैलजा द्वारा कार्यालय में पदभार संभालने पर फरीदाबाद के पूर्व विधायकों ने समर्थकों सहित कुमारी सैलजा का फूलों की माला एवं गुलदस्ता भेंट कर उन्हें बधाई दी। इस दौरान पूर्व विधायक आनंद कौशिक, प्रदेश महासचिव बलजीत कौशिक सहित अन्य कांग्रेसजनों ने बड़ी माला पहनाकर कुमारी सैलजा का स्वागत किया।
इस मौके पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कुमारी सैलजा ने सभी को कांग्रेस के स्थापना दिवस की बधाई देते हुए कहा कि 28 दिसम्बर 1885 को स्थापित कांग्रेस ने विगत 138 वर्षो में अनेक उतार-चढ़ाव देंखे है। विगत 137 वर्षो में कांग्रेस भारतीय राजनीति व समाज की प्रमुख धुरी रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने महात्मा गांधी व जवाहरलाल नेहरू के नेतृत्व में एक लंबी लड़ाई लडकऱ ना केवल देश को अंग्रेजी साम्राज्य से मुक्त करवाकर एक प्रजातांत्रिक भारत का निर्माण किया अपितु आजादी के 75 सालों में भारत के चहुमंखी विकास करके दुनिया में अपना महत्वपूर्ण स्थान बनाया, उसकी ना केवल कांग्रेस ने नींव रखी, वहीं कांंग्रेस नेतृत्व द्वारा रखी गई उसी नींव पर ही भारत के विकास का भव्य महल बना। कांग्रेस ने देश के सभी क्षेत्रों, वर्गोे, जातियों, समुदायों, धर्मो व पूरे भारतीय समाज को आगे बढ़ाने व उनका सर्वांगिण विकास के लिए विगत 75 वर्षो में अथक मेहनत की है। उन्होंने सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं से कहा कि वह एकजुट होकर केंद्र व प्रदेश की भाजपा जनविरोधी नीतियों को जन-जन तक पहुंचाएं ताकि आने वाले समय में इस जनविरोधी सरकार का देश-प्रदेश से सफाया किया जा सके।
इस मौके पर पूर्व विधायक आनंद कौशिक व बलजीत कौशिक ने सर्वप्रथम कुमारी सैलजा को कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव एवं छत्तीसगढ़ का प्रभारी बनाने पर कांग्रेस की पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गांधी, राहुल गांधी, प्रियंका गांधी, कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खडगे का आभार जताते हुए कहा कि कुमारी सैलजा ने हरियाणा में पार्टी संगठन को मजबूती प्रदान करके यहां कांग्रेस कार्यकर्ताओं को मान-सम्मान देने का काम किया और अब वह छत्तीसगढ़ के अलावा कांग्रेस के राष्ट्रीय नेतृत्व को भी मजबूती प्रदान करेगी।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस के इतिहास के बिना आधुनिक भारत का इतिहास लिखा ही नही जा सकता। कटु सत्य यह है कि भारत की आजादी का इतिहास हो या फिर आजादी के बाद भारत के विकास व वैभव की गाथा हो, वह और कांग्रेस एक-दूसरे से जुडे है। इन दोनो को किसी भी तरह से अलग नही किया ही नही जा सकता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने देश को प्रजातांत्रिक गणराज्य बनाया, उसी के फलस्वरूप देश ने सभी नागरिकों को राजनैतिक, सामाजिक, आर्थिक व वैचारिक स्वतंत्रता मिली। आज देश का कोई भी नागरिक कितनी भी राजनैतिक, सामाजिक व आर्थिक तरक्की कर सकता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस व राष्ट्र की नेता श्रीमती इंदिरा गांधी व राजीव गांधी ने देश के अपना जीवन का बलिदान किया, वहीं प्रथम प्रधानमंत्री पं0 जवाहरलाल नेहरू ने देश के निर्माण का रास्ता बनाया।
इस मौके पर महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष सुनीता फागना, विनोद कौशिक एडवोकेट, आरपी शर्मा, मान सिंह, रमेश चंद, मुकेश कुमार, महेंद्र सिंह, रंधावा फागना, सरला भामौत्रा, मालवती पांचाल, जिला महासचिव सोनई, जिला सचिव अन्नू देवी, पूनव शर्मा, इकबाल मोहम्द, मदन, जुल्फीकार, दानिश अली, अजय शर्मा, विशाल फागना, जुबेर खान, मम्मी मान, जमुना देवी, लक्ष्मी, लाडो देवी, सहदेव नंबरदार, पिंटो सैनी, करवर सिंह मलिक, महेश चंद शर्मा, आशा शर्मा, नीलम, देवेंद्र दीक्षित, एलसी मित्तल, रामकुमार भारद्वाज, सतीश गर्ग, मेहरचंद चंद पाराशर, महेंद्र यादव, अजय रावत रमेश कौशिक पूर्व सरपंच सहित अनेकों कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद थे।