सुशासन दिवस पर जिला बाल कल्याण अधिकारी कमलेश शास्त्री प्रशासनिक और उत्कृष्ट कार्य के लिए कैबिनेट मंत्री द्वारा सम्मानित

0
111

नूंह (नेशनल प्रहरी/ संवाददाता )। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती के अवसर पर 25 दिसंबर को प्रतिवर्ष सुशासन दिवस के रूप में मनाया जाता है। आज इसी कड़ी को जोड़ते हुए जिला नूंह (मेवात) में जिला प्रशासन के द्वारा सुशासन दिवस बड़ी धूमधाम से मनाया गया। इस मौके पर हरियाणा सरकार के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की।
जिला उपायुक्त अजय कुमार (आईएएस) ने मुख्यातिथि का समस्त जिला प्रशासन नूंह की तरफ से बड़े ही गर्मजोशी से स्वागत किया गया। इस अवसर पर पहुंचे मुख्यातिथि ने पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेई को श्रद्धांजलि देते हुए श्रद्धा सुमन अर्पित किए।
इस मौके पर परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा की सुशासन दिवस की घोषणा ई-गवर्नेंस के माध्यम से सुशासन के आधार पर की गयी है। यह एक ऐसा कार्यक्रम है जो सभी सरकारी अधिकारियों को बैठक एवं संचार के लिए इनवाइट करने के बाद मुख्य समारोह में शामिल होकर मनाया जाता है। सुशासन दिवस 1 दिन की लंबी प्रदर्शनी का आयोजन करके और सरकारी अधिकारियों को भाग लेने के साथ ही गवर्नमेंट्स एवं प्रदर्शनी के बारे में कुछ सुझाव देने के लिए इनवाइट करने के लिए मनाया जाता है। संयोग से भारत में सुशासन दिवस 25 दिसंबर को क्रिसमस के अवसर पर मिलती है। सुशासन दिवस के अवसर पर पूरे दिन काम करने की घोषणा की गई है।
इस मौके पर जिला प्रशासन द्वारा नूंह के जिला बाल कल्याण अधिकारी कमलेश शास्त्री को बाल कल्याण एवं प्रशासनिक कार्यों के क्षेत्र में किए गए उत्कृष्ट कार्यों के लिए परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने अपने कर कमलों से प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।
इस अवसर पर हरियाणा वफ्क बोर्ड प्रशासक जाकिर हुसैन, अतिरिक्त उपायुक्त रेनू शोगन, जिला परिषद सीईओ प्रदीप अहलावत, सिटी मजिस्ट्रेट सिद्धार्थ दहिया, जिला राजस्व अधिकारी नरेश जोबल, जिला शिक्षा अधिकारी, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी, प्रोफेसर अशोक कटारिया, अन्य अधिकारीगण, कर्मचारीगण व अन्य प्रबुद्ध गण उपस्थित रहे।