भारत ने चांद पर रचा इतिहास: पीएम मोदी, कांग्रेस नेता राहुल गांधी, गृह मंत्री अमित शाह सहित अन्य ने दी बधाई

0
640

नई दिल्ली (नेशनल प्रहरी/ संवाददाता )। चंद्रयान-3 ने बुधवार को चांद की सतह पर सफलतापूर्वक लैंडिंग की। चंद्रयान-3 (Chandrayaan-3) की सफल लैंडिंग के साथ ही भारत (India) ने इतिहास रच दिया है। चांद के साउथ पोल पर चंद्रयान उतारने वाला भारत पूरी दुनिया में पहला देश बन गया है। अब तक किसी भी देश ने ऐसा नहीं किया था।
राष्ट्रपति मुर्मु ने दिया खास संदेश: चंद्रयान-3 की सफल लैंडिंग के साथ ही देश-दुनिया के नेताओं ने इसरो के वैज्ञानिकों और भारतवासियों को बधाई दी। चंद्रमा पर चंद्रयान-3 की सॉफ्ट लैंडिंग के बाद राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने देशवासियों को बधाई दी। उन्होंने राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में कहा कि यह वास्तव में एक महत्वपूर्ण अवसर है, एक तरह की घटना जो जीवनकाल में एक बार होती है।
पीएम मोदी ने दी बधाई: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने चंद्रयान-3 के सफल लैंडिंग पर इसरो और देशवासियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि इससे पहले कोई भी देश वहां (चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव) तक नहीं पहुंचा है। हमारे वैज्ञानिकों की मेहनत से हम वहां तक पहुंचे हैं।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा: कभी कहा जाता था चंदा मामा बहुत दूर के हैं, अब एक दिन वो भी आएगा, जब बच्चे कहा करेंगे चंदा मामा बस एक टूर के हैं। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ISRO को बधाई दी: चंद्रयान-3 के चंद्रमा की सतह पर सॉफ्ट लैंडिंग के साथ ही देश बुधवार (23 अगस्त) को जश्न में डूब गया। इस खुशी में कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी शरीक हुए। उन्होंने भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) को बधाई दी।
राहुल गांधी ने सोशल मीडिया एक्स (पूर्व में ट्विटर) पर लिखा, ”इसरो की टीम को इस उपलब्धि के लिए बधाई. दक्षिण ध्रुव पर चंद्रयान 3 की सॉफ्ट लैंडिंग हमारे वैज्ञानिक की जबरदस्त प्रतिभा और दशकों की कड़ी मेहनत का परिणाम है। ” उन्होंने आगे कहा, ”1962 के बाद से भारत का अंतरिक्ष कार्यक्रम नई ऊंचाइयों को छू रहा है और सपने देखने वाली युवा पीढ़ियों को प्रेरित कर रहा है।’’’ अमित शाह ने किया स्वागत: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि चंद्रयान-3 मिशन की सफलता के साथ भारत चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव को छूने वाला पहला देश बन गया है। उन्होंने कहा कि नई अंतरिक्ष यात्रा भारत की खगोलीय महत्वाकांक्षाओं को नई ऊंचाइयों पर ले गई है। गृह मंत्री ने कहा कि भारतीय कंपनियों के लिए अंतरिक्ष का प्रवेश द्वार खुलने से हमारे युवाओं के लिए रोजगार के ढेर सारे अवसर पैदा होंगे।
राजनाथ सिंह ने इसरो को दी बधाई: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि मिशन चंद्रयान-3 की सफलता पर इसरो की पूरी टीम को बहुत बधाई। उन्होंने कहा कि अंतरिक्ष में भारत की उपलब्धियां अब अभूतपूर्व ऊंचाइयों को छू चुकी हैं। रक्षामंत्री ने कहा कि सारा देश उन वैज्ञानिकों पर गर्व महसूस कर रहा है, जिन्होंने अपनी बुद्धिमत्ता, मेहनत और प्रबल इच्छाशक्ति से इस मिशन की सफलता के साथ इतिहास रच दिया है।
अंतरिक्ष में भारत की विशिष्ट पहचानः नड्डा
चंद्रयान-3 की चंद्रमा पर सफल लैंडिंग पर भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने इस मिशन से जुड़े सभी वैज्ञानिकों और देश के लोगों को बधाई दी। नड्डा ने कहा कि पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत अंतरिक्ष क्षेत्र में अपनी एक विशिष्ट पहचान बना रहा है
योगी आदित्यनाथ ने इसरो को दी बधाई: वहीं, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि चंद्रयान-3 की सफल सॉफ्ट लैंडिंग नए भारत की सामर्थ्य और शक्ति का सशक्त प्रदर्शन है।
सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा : प्रधानमंत्री के दूरदर्शी नेतृत्व और मार्गदर्शन में इसरो के वैज्ञानिकों ने वह कर दिखाया जो कोई नहीं कर सका। चंद्रमा का दक्षिणी ध्रुव अब तक दुनिया के लिए असंभव था, लेकिन हमारे दूरदर्शी वैज्ञानिकों ने इसे संभव कर दिखाया है। वसुधैव कुटुम्बकम् की पवित्र भावना के साथ मैं इसरो के सभी वैज्ञानिकों को इस सफलता के लिए बधाई और देशवासियों को शुभकामनाएँ देता हूं।
‘अरे वाह, मजा आ गया’, खट्टर ने दी बधाई: इस अवसर पर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि अरे वाह, मजा आ गया! आज देखिए चंद्रमा हमारे और भी करीब आ गया है। ये बहुत खुशी की बात है। चंद्रमा पर सफलतापूर्वक उतरने के बाद चंद्रयान-3 चंद्रमा की सतह पर भारत की उपस्थिति को दर्शा रहा है। उन्होंने इसरो को ये मुकाम हासिल करने के लिए बधाई दी।