31.1 C
New York
Tuesday, August 9, 2022

Buy now

spot_img

जगदीप धनखड़ होंगे देश के नए उपराष्ट्रपति, 346 मतों से मार्गरेट अल्‍वा को दी शिकस्‍त

नई दिल्ली (नेशनल प्रहरी/संवाददाता ) : एनडीए के उम्मीदवार जगदीप धनखड़ ने उपराष्ट्रपति पद चुनाव जीत लिया है। उन्होंने विपक्ष की उम्मीदवार कांग्रेस नेता मार्गरेट अल्वा को हराया है। नए उपराष्ट्रपति 11 अगस्त को पद की शपथ लेंगे। उपराष्ट्रपति चुनाव के नतीजों की घोषणा से पहले पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल जगदीप धनखड़ संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी के 11 अकबर रोड स्थित आवास पर पहुंचे।
वोटों की गिनती खत्म होने के बाद लोकसभा महासचिव उत्पल कुमार सिंह ने कहा कि एनडीए के उम्मीदवार जगदीप धनखड़ ने कुल 725 मतों में से 528 मतों के साथ 346 मतों से जीत हासिल की। जबकि 15 मतों को अवैध करार दिया गया। उपराष्ट्रपति पद के चुनाव में 34 टीएमसी, 2 बीजेपी, 2 शिवसेना और बीएसपी के एक सांसद ने वोट नहीं किया।
कुल 92.94% मतदान हुआ: उन्होंने कहा कि विपक्षी उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा को चुनाव में 182 वोट मिले। उन्होंने कहा कि राज्यसभा के निर्वाचित और मनोनीत सदस्यों और लोकसभा के निर्वाचित सदस्यों वाले 780 मतदाताओं में से 725 मतदाताओं ने अपने मत डाले। कुल 92.94% मतदान हुआ। इस चुनाव में टीएमसी के दो सांसदों ने ही वोट किया। टीएमसी के शिशिर अधिकारी और दिवेंदु अधिकारी ने वोट किया। टीएमसी ने वोटिंग से दूर रहने कि घोषणा की थी। वहीं बीजेपी के संजय धोत्रे स्वास्थ्य कारणों से वोट नहीं कर सके और सनी देओल देश से बाहर हैं।
नए उपराष्ट्रपति 11 अगस्त को शपथ लेंगे: नए उपराष्ट्रपति के चुनाव के लिए मतदान आज सुबह 10 बजे शुरू हुआ और शाम 5 बजे संपन्न हुआ। शाम छह बजे के बाद मतगणना शुरू हुई थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपना वोट डालने वाले पहले नेताओं में से थे। केंद्रीय मंत्री अमित शाह, राजनाथ सिंह और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी वोट डाला. पूर्व पीएम डॉ. मनमोहन सिंह व्हील चेयर पर वोट डालने पहुंचे। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी अन्य सांसदों के अलावा वोट डाला। मौजूदा उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू का कार्यकाल समाप्त होने के एक दिन बाद देश के अगले उपराष्ट्रपति 11 अगस्त को पद की शपथ लेंगे।
पश्चिम बंगाल के राज्यपाल रहे हैं जगदीप धनखड़ : जगदीप धनखड़ को 2019 में पश्चिम बंगाल के राज्यपाल के रूप में नियुक्त किया गया था। उन्होंने एनडीए के उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के रूप में उनके नाम की घोषणा के बाद 17 जुलाई को पश्चिम बंगाल के राज्यपाल के पद से इस्तीफा दे दिया था। भारत के उपराष्ट्रपति, जो देश में दूसरा सर्वोच्च संवैधानिक पद है, का चुनाव एक निर्वाचक मंडल के माध्यम से किया जाता है जिसमें राज्यसभा और लोकसभा के सदस्य होते हैं. देश के उपराष्ट्रपति राज्यसभा के सभापति भी होते हैं।
लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी, राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश समेत मुख्य विपक्षी दल के तमाम सांसदों ने भी अपने मताधिकार का प्रयोग किया। राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन यानी एनडीए ने पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल जगदीप धनखड़ (71) को प्रत्याशी के तौर पर चुनाव मैदान में उतारा था जबकि विपक्ष की ओर से मार्गरेट अल्वा (80) को संयुक्त उम्मीदवार घोषित किया गया था।
भाजपा के पास लोकसभा में पूर्ण बहुमत है और राज्यसभा में भी उसके 91 सदस्य हैं… इस वजह से पहले ही धनखड़ का पलड़ा भारी नजर आ रहा था। मौजूदा उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू का कार्यकाल 10 अगस्त को खत्‍म हो रहा है। लोकसभा और राज्यसभा के सभी सांसद उपराष्ट्रपति चुनाव में मतदान करने के लिए पात्र होते हैं। इसमें मनोनीत सदस्य भी शामिल हैं। संसद के दोनों सदनों में कुल 788 सांसद मतदान के पात्र हैं। चूंकि राज्‍य सभा की आठ सीटें रिक्त हैं। इसके चलते इस चुनाव में 780 सांसद वोटिंग के पात्र थे।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

[td_block_social_counter facebook="nationalpraharinewslive" twitter="news_prahari" style="style8 td-social-boxed td-social-font-icons" tdc_css="eyJhbGwiOnsibWFyZ2luLWJvdHRvbSI6IjM4IiwiZGlzcGxheSI6IiJ9LCJwb3J0cmFpdCI6eyJtYXJnaW4tYm90dG9tIjoiMzAiLCJkaXNwbGF5IjoiIn0sInBvcnRyYWl0X21heF93aWR0aCI6MTAxOCwicG9ydHJhaXRfbWluX3dpZHRoIjo3Njh9" custom_title="Stay Connected" block_template_id="td_block_template_8" f_header_font_family="712" f_header_font_transform="uppercase" f_header_font_weight="500" f_header_font_size="17" border_color="#dd3333" instagram="nationalprahari"]
- Advertisement -spot_img

Latest Articles