अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज हर्ष गिल ने तंजानिया के बॉक्सर शहीद मबेलवा को चटाई धूल

0
485

फरीदाबाद (नेशनल प्रहरी/ रघुबीर सिंह)। द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब के मुक्केबाज हर्ष गिल ने 25 मार्च साईबर हब, गुरुग्राम में आयोजित प्रोफेशनल बॉक्सिंग में तंजानिया के बॉक्सर शहीद मबेलवा को दूसरे राउंड में धराशाई किया। इसके साथ ही वो इंडिया की लगातार आठ फाइट जीतने वाले बॉक्सर बन गए हैं, हर्ष गिल द्रोणाचार्य बॉक्सिंग क्लब, सेक्टर 10 में प्रैक्टिस करते हैं और इनके कोच अंतरराष्ट्रीय बॉक्सर राजीव गोदारा है। उनके कोच राजीव गोदारा ने बताया की इससे पिछली फाइट में मुक्केबाज हर्ष गिल ने दक्षिणी कोरिया के बॉक्सर सुंग जिन कुआक को नॉकआउट कर एशियन बॉक्सिंग टाइटल पर कब्जा किया था और व बांग्लादेश के मुक्केबाज हीरा मियां को भी चारों खाने चित कर चुके हैं। उन्होंने बॉक्सिंग में ही नहीं अपितु खेल जगत में भारत देश का नाम रोशन किया है । हर्ष गिल शुरू से ही तंजानिया के बॉक्सर शहीद मबेलवा पर हावी होते दिखे और दूसरे ही राउंड में अपने मुक्को की बौछार से तंजानिया के बॉक्सर शहीद मबेलवा को चारों खाने चित किया।
इस प्रोफेशनल बॉक्सिंग के मुख्य अतिथि डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला जी ने बॉक्सर हर्ष गिल की हौसला अफजाई की । हर्ष गिल किसी परिचय के मोहताज नहीं है क्योंकि उन्होंने कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत का नाम रोशन किया है। उनके पिता लखविंदर गिल फरीदाबाद सेक्टर-11 में रहते हैं। इससे पहले हर्ष कई बार राष्ट्रीय स्तर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कई पदक हासिल कर चुके हैं। उन्होंने 19 जुलाई 2019 सर्बिया में आयोजित गोल्डन ग्लव्स ऑफ वोजवोदिना अंतरराष्ट्रीय बॉक्सिंग चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता था और जनवरी 2021 में नोएडा में आयोजित प्रोफेशन बॉक्सिंग में भी जीत हासिल की थी और वह अभी तक बिना कोई मैच हारे लगातार आठ प्रोफेशनल फाइट जीत चुके हैं राष्ट्रीय स्तर पर उन्होंने स्कूल नैशनल गेम्स 2018 असम में हुई बॉक्सिंग प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीता। ओपन नैशनल 2018 चंडीगढ़ में रजत पदक हासिल किया। ऑल इंडिया साईं नैशनल बॉक्सिंग चैंपियनशिप 2018 रोहतक में हुई प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक पर कब्जा किया। खेलो इंडिया गेम्स 2018 दिल्ली में रजत पदक हासिल किया। वह गवर्नर की तरफ से साल 2018 में पुरस्कार प्राप्त कर चुके हैं। हर्ष गिल एक बिजनेसमैन का बेटा है लेकिन उन्होंने ऐसो आराम की जिंदगी छोड़ कर बॉक्सिंग में कदम रखा और देश के लिए ओलंपिक में मेडल जीतने का एक मकसद बना लिया। अब अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज हर्ष गिल वर्ल्ड टाइटल बाउट की तैयारी में जुट गए हैं अगला मुकाबला वर्ल्ड टाइटल के लिए होगा।