फिल्म सिटी और जेवर एयरपोर्ट के बीच जल्द शुरू होगी देश की पहली पॉड टैक्सी-सर्विस

0
516

● यमुना अथॉरिटी ने प्रोजेक्ट को मंजूरी दी, 37 हजार लोग हर दिन कर सकेंगे यात्रा
नई दिल्ली (नेशनल प्रहरी/ संवाददाता)।
यमुना प्राधिकरण ने फिल्म सिटी और जेवर एयरपोर्ट के बीच पॉड टैक्सी चलाने की योजना बनाई है। इसकी डिटेल प्रॉजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) केंद्र सरकार की कंपनी इंडियन पोर्ट रेल एंड रोपवे कॉरपोरेशन लिमिटेड ने बनाई है, जो यमुना प्राधिकरण बोर्ड से पास हो चुकी है। डीपीआर का शासन की पीपीपी परियोजना के लिए गठित वैल्युवेशन कमिटी भी स्टडी कर चुकी है। इसे पास करने से पहले कमिटी ने कहा था कि जिन देशों में पॉड टैक्सी चल रही है, वहां की स्टडी कराई जाए। उसके फायदे- नुकसान के बारे में पता किया जाए। तब इस पर आगे बढ़ा जाएगा।
यमुना प्राधिकरण ने जिन देशों में पॉड टैक्सी चल रही है, उनकी रिपोर्ट डीपीआर बनाने वाली कंपनी से मांगी थी। बुधवार को यमुना प्राधिकरण में आयोजित बैठक में इंडियन पोर्ट रेल एंड रोपवे कॉरपोरेशन लिमिटेड ने अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत की. वहां पर लोगों को यह सुविधा 18 घंटे मिलती है। इन देशों में पॉड टैक्सी पांच किलोमीटर के कॉरिडोर में चलती है। यमुना प्राधिकरण क्षेत्र में फिल्म सिटी और जेवर एयरपोर्ट के बीच चलने वाली पॉड टैक्सी की सुविधा भी 18 घंटे मिल सकती है।
पॉड टैक्सी में हर दिन 37,000 लोग कर सकेंगे यात्रा: इस प्रोजेक्ट की अनुमानित लागत 810 करोड़ रुपए है। पॉड टैक्सी नोएडा के जेवर एयरपोर्ट को फिल्म सिटी से कनेक्ट करेगी। शुरुआती अनुमान के अनुसार, हर दिन लगभग 37,000 लोग पॉड टैक्सियों के माध्यम से यात्रा कर सकेंगे। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, एक पॉड में 8 लोग बैठकर और 13 यात्री खड़े होकर सफर कर सकेंगे।
सरकार को भेजी जाएगी रिपोर्ट: अब यमुना प्राधिकरण अपनी रिपोर्ट यूपी सरकार के पास भेजेगी। रिपोर्ट का अध्ययन करने के बाद इस महीने के अंत तक इस मसले पर यमुना प्राधिकरण की एक बैठक हो सकती है। बैठक में फैसले के बाद ही इसे डेवलप करने वाली कंपनी के चयन के लिए वैश्विक टेंडर निकाले जाएंगे। टेंडर निकालने के बाद दो महीने में डेवलपर कंपनी का चयन हो जाएगा।
प्रोजेक्ट की मंजूरी से पहले कराई गई स्टडी: इस प्रोजेक्ट को मंजूरी देने से पहले YEIDA की कमेटी ने कहा था कि जिन देशों में पॉड टैक्सी चल रही है, वहां स्टडी की जाए। इसके फायदे और नुकसान के बारे में पता किया जाएगा, उसके बाद ही आगे बढ़ा जाए। इसके बाद उन देशों की स्टडी कराई गई।
मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, दुनियाभर के 18 देशों में पॉड टैक्सी शुरू की गई थी, लेकिन वर्तमान में 5 देशों में चल रही है। प्रोजेक्ट से जुड़े अधिकारियों ने साल 2011-12 की रिपोर्ट का हवाला देते हुए बताया है कि लंदन की पॉड टैक्सी सर्विस मुनाफे में चल रही है, जबकि अबू धाबी का ये प्रोजेक्ट घाटे में चल रहा है।
14.6 किलोमीटर लंबा होगा कॉरिडोर: फिल्म सिटी और जेवर एयरपोर्ट के बीच चलने वाली पॉड टैक्सी औद्योगिक सेक्टर को भी जोड़ेगी। इसमें 12 स्टेशन बनाए जाएंगे. इसमें सेक्टर 29, हैंडीक्राफ्ट पार्क, एमएसएमई पार्क, अपैरल पार्क, सेक्टर 32, सेक्टर 33, टॉय पार्क, सेक्टर-21 आदि स्टेशन होंगे। इस कॉरिडोर की लंबाई 14.6 किलोमीटर होगी। फिल्म सिटी और जेवर एयरपोर्ट रूट पर एक पॉड में आठ यात्री बैठकर तथा 13 यात्री खड़े होकर सफर करेंगे। इसका किराया आठ रुपये प्रति किलोमीटर की दर से तय हो सकता है।